RSS

सोमवार, 26 अक्तूबर 2009

बोलो कौन है वो ......?



बोलो कौन है वो...?
मेरे पास तेरे पास ,
है उनके पास

अपने इस समाज की ताकत ,
जिनके पास
जिनका हुक्का भरते है ,

मुख़बिर और चुगलख़ोर ,
गुंडों और डंडो से चलता है उनका जोर ,
कुन्डालियो जैसी लम्बी लम्बी बाते भैया ,

और....
वादे बेहद मोहक ,पर रहे भूल-भुलैया ,
समझे है समझेंगे ,
उनकी कुर्सी की ता - ता थैया

अरे...अरे.....
लगता है ,कुछ पहचाने हुए ,
ऊपर से सफ़ेद पर अंदर से है काले।
अरे वही मेरे नेता जी निराले!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!! [soryyy]

         साधना 

18 टिप्पणियाँ:

संजय भास्कर ने कहा…

कम शब्दों में बहुत सुन्दर कविता।
बहुत सुन्दर रचना । आभार

ढेर सारी शुभकामनायें.

SANJAY KUMAR
HARYANA
http://sanjaybhaskar.blogspot.com

SACCHAI ने कहा…

" bahut hi sunder ..sabdo ka shi jagah per istemal kiya hai aapne jo kabile tarif hai "

----- eksacchai { AAWAZ }

http://eksacchai.blogspot.com

plz welcome on my blog

plz ye word verification hata de

AlbelaKhatri.com ने कहा…

बहुत उम्दा कविता

अभिनन्दन !

RAJNISH PARIHAR ने कहा…

ब्लॉग परिवार में आपका स्वागत है!लिखते रहें और पढ़ते रहें ...तभी आपका आना सार्थक होगा..

अजय कुमार ने कहा…

blog jagat me swagat aur shubhkamnaye
sundar bhavabhivyakti

VisH ने कहा…

swagat hai.....main intzar karoonga....?? mere blog par bhi dastak dain....

Jai Ho Mangalmay Ho

uthojago ने कहा…

great

Amit K Sagar ने कहा…

चिट्ठा जगत में आपका हार्दिक स्वागत है. लेखन के द्वारा बहुत कुछ सार्थक करें, मेरी शुभकामनाएं.
---

दोस्ती पर उठे हैं कई सवाल- क्या आप किसी के दोस्त नहीं? पधारें- (FWB) [बहस] [उल्टा तीर]

Yugal Mehra ने कहा…

बहुत अच्छा लेख है। ब्लाग जगत मैं स्वागतम्।
http://myrajasthan.blogspot.com

sanjaygrover ने कहा…

हुज़ूर आपका भी एहतिराम करता चलूं.....
इधर से गुज़रा था, सोचा सलाम करता चलूं
www.samwaadghar.blogspot.com

डॉ. राधेश्याम शुक्ल ने कहा…

kya khoob likha hai.

रश्मि प्रभा... ने कहा…

bahut hi badhiyaa,mazaa aa gaya

रचना गौड़ ’भारती’ ने कहा…

अच्छा नेता चित्रण ।
बधाई ।

RAJNISH PARIHAR ने कहा…

आपका बहुत बहुत धन्यवाद!!!!बहुत अच्छे विचार है आपके..!ये पिक्चर कहाँ देखने को मिलेगी? कृपया कमेन्ट की सेटिंग में जाकर वर्ड वेरिफिकेशन हटा दें....!टिप्पणी करने में सुविधा होने से ज्यादा लोग आपके ब्लॉग से जुड़ पाएंगे...

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…

कल 20/02/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
धन्यवाद!

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

सही कटाक्ष करती अच्छी रचना

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') ने कहा…

एकदम सटीक... बहुत बढ़िया...

Arvind ने कहा…

Gajab

एक टिप्पणी भेजें